Published 3 years ago in Jain Sajjay, in album: Shree Labdhi Sajjaymala

09 Pranmu Tamara Paay Prasannachandra

  • 278
  • 3
  • 0
  • 15
  • 1
  • 4

कुछ क्षण पहले सातवी नरक और कुछ क्षण बाद मोक्ष
जैसी मति वैसी गति इस वाक्य को सार्थक करती इस सज्झाय को सुनें

00:00

No voice

:
/ :

Queue

Clear